Tuesday, 19 December 2017

इस गांव में लड़कों को नहीं मिलती है दुल्हन जाने क्यों ?

शादी-विवाह तो एक ऐसा बन्दन है जो सदियों से चली आ रही है। इस बन्दन में एक बार बंध जाने के बाद कोई इसे ठुकरा नहीं सकता है। राजस्थान के कुछ गांव ऐसे भी है, जहां पिछले 10 सालों से किसी की शादी नहीं हुई। इन गांवों में पिछले 10 सालों से कोई बारात नहीं आई, जहां के 200 से ज्यादा लड़के अपने लिए दुल्हन तलाश कर रहे हैं, लेकिन उन्हें दुल्हन नहीं मिल रही है। लड़कों की शादी नहीं होने के पीछे का कारण बहुत भी अजीबों-गरीब है। आइए आपको बताते हैं कि आखिर इन गांवों के लड़कों की शादी क्यों नहीं हो रही है।


राजस्थान के 7 गांवों में 10 साल से कोई शादी नहीं हुई। इन गांवों के 200 से ज्यादा लड़के कुंवारे हैं। राजस्थान के रामगंजमंडी इलाके के 7 गांवों में कोई अपनी बेटी की शादी नहीं करना चाहता है। इसकी वजह डैम में डूबी कुंवारे लड़कों की किस्मत राजस्थान के रामगंजमंडी के इन गांवों के लड़कों की शादी ताकली डैम की वजह से नहीं हो रही है। दरअसल इस गांव में डैम की वजह से काफी बर्बादी हुई। अब इन गांवों के लोगों को पुनर्वास के मुआवजे का इंतजार है। लोगों ने इसी के इंतजार में अब तक अपने मकानों का मरम्मत नहीं करवाया है। न ही कोई नया मकान बना रहा है.


20 साल पहले शुरू हुआ था डैम का काम ताकली नदी पर बनने वाले डैम को लेकर 20 साल बाद सर्वे हुआ, लेकिन उसका काम अब तक शुरू नहीं हुआ. 2007 में इस बांध को मंजूरी मिली। इस डैम से 31 गांवों की 7386 हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई होगी, लेकिन काम बीच में ही अटक गया। डैम बनकर तैयार हो गया, लेकिन नहरों के साथ डूब क्षेत्र में आ रहे 7 गांवों का पुनर्वास बाकी है। सोहनपुरा, रघुनाथपुरा, तालियाबरडी, दड़िया, तमोलिया का अभी तक पुनर्वास नहीं हो सका है। जिसकी वजह से यहां के लोग परेशान है। घरों की हालत ऐसी हो चुकी है कि लोग अपनी बेटी किसी को देना नहीं चाहते हैं। इसी वजह से इस गांव के लड़कों की शादी नहीं हो रही है।

Related Posts

इस गांव में लड़कों को नहीं मिलती है दुल्हन जाने क्यों ?
4/ 5
Oleh

Subscribe via email

Like the post above? Please subscribe to the latest posts directly via email.