Friday, 9 February 2018

देखकर बहते आँसू तुम्हारे हम सह नहीं सकते


देखकर बहते आँसू तुम्हारे हम सह नहीं सकते,
मोहब्बत तुमसे कितनी है हम कह नहीं सकते,
कितना भी नाराज हो जाये हम तुमसे सनम,
मगर ये सुच है तुम्हारे बिना हम रह नहीं सकते। 

Saturday, 27 January 2018

यूँ तो काफी मिर्च मसाले है इस ज़िन्दगी में


यूँ तो काफी मिर्च मसाले है,
इस ज़िन्दगी में
लेकिन तुम्हारे बिना
हर एक चीज फीकी सी लगती है.

Monday, 22 January 2018

वैसे तो ज़िन्दगी के हाथ नहीं होते


वैसे तो ज़िन्दगी के हाथ नहीं होते,
लेकिन कभी - कभी वो ऐसा थप्पड़ मरती है,
की पूरी उम्र भूले नहीं भूलती।

Tuesday, 9 January 2018

बस मोबाइल में लगी रहा करो.


पति : बस मोबाइल में लगी रहा करो
दाल में ना नमक है, ना ही मिर्च
पत्नी : खाते वक्त तो मोबाइल छोड़ दिया करो
दाल में नहीं पानी में रोटी डुबो के खा रहे हो... 

Monday, 1 January 2018

भुला दो बिता हुआ कल.


भुला दो बिता हुआ कल
दिल में बसाओ आने वाला कल,
हसो और हसाओ चाहे जो भी हो पल,
खुशियाँ लेकर आएगा ये आने वाला पल। 

Saturday, 30 December 2017

दुनियाँ की सबसे सस्ती चीज है.


दुनियाँ की सबसे सस्ती चीज है, सलाह
मांगो एक, मिलती है हज़ारो,
दुनियाँ की सबसे महँगी चीज है सहयोग,
मांगो हज़ारो से,
तब जाकर के किसी एक से मिलती है। 

Friday, 29 December 2017

बिना हेलमेट वाले लड़को को देखकर.


बिना हेलमेट वाले लड़को को देखकर
ट्रैफिक पुलिस वाले ऐसे खुश हो जाते है,
जैसे अपनी बिन ब्याही बेटी के लिए
दामाद ढूंढ लिया हो.

Tuesday, 26 December 2017

जिंदगी अनमोल है, पर मुझे जीना नहीं आता.


जिंदगी अनमोल है, पर मुझे जीना नहीं आता,
नशा तो हर चीज में है, पर मुझे पिने का शौक नहीं है,
तुम सब मेरे बिन जी सकते हो,
मगर मुझे अपने दोस्तों के बिना जीना नहीं आता.

Tuesday, 19 December 2017

इस गांव में लड़कों को नहीं मिलती है दुल्हन जाने क्यों ?

शादी-विवाह तो एक ऐसा बन्दन है जो सदियों से चली आ रही है। इस बन्दन में एक बार बंध जाने के बाद कोई इसे ठुकरा नहीं सकता है। राजस्थान के कुछ गांव ऐसे भी है, जहां पिछले 10 सालों से किसी की शादी नहीं हुई। इन गांवों में पिछले 10 सालों से कोई बारात नहीं आई, जहां के 200 से ज्यादा लड़के अपने लिए दुल्हन तलाश कर रहे हैं, लेकिन उन्हें दुल्हन नहीं मिल रही है। लड़कों की शादी नहीं होने के पीछे का कारण बहुत भी अजीबों-गरीब है। आइए आपको बताते हैं कि आखिर इन गांवों के लड़कों की शादी क्यों नहीं हो रही है।


राजस्थान के 7 गांवों में 10 साल से कोई शादी नहीं हुई। इन गांवों के 200 से ज्यादा लड़के कुंवारे हैं। राजस्थान के रामगंजमंडी इलाके के 7 गांवों में कोई अपनी बेटी की शादी नहीं करना चाहता है। इसकी वजह डैम में डूबी कुंवारे लड़कों की किस्मत राजस्थान के रामगंजमंडी के इन गांवों के लड़कों की शादी ताकली डैम की वजह से नहीं हो रही है। दरअसल इस गांव में डैम की वजह से काफी बर्बादी हुई। अब इन गांवों के लोगों को पुनर्वास के मुआवजे का इंतजार है। लोगों ने इसी के इंतजार में अब तक अपने मकानों का मरम्मत नहीं करवाया है। न ही कोई नया मकान बना रहा है.


20 साल पहले शुरू हुआ था डैम का काम ताकली नदी पर बनने वाले डैम को लेकर 20 साल बाद सर्वे हुआ, लेकिन उसका काम अब तक शुरू नहीं हुआ. 2007 में इस बांध को मंजूरी मिली। इस डैम से 31 गांवों की 7386 हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई होगी, लेकिन काम बीच में ही अटक गया। डैम बनकर तैयार हो गया, लेकिन नहरों के साथ डूब क्षेत्र में आ रहे 7 गांवों का पुनर्वास बाकी है। सोहनपुरा, रघुनाथपुरा, तालियाबरडी, दड़िया, तमोलिया का अभी तक पुनर्वास नहीं हो सका है। जिसकी वजह से यहां के लोग परेशान है। घरों की हालत ऐसी हो चुकी है कि लोग अपनी बेटी किसी को देना नहीं चाहते हैं। इसी वजह से इस गांव के लड़कों की शादी नहीं हो रही है।